Game Developer Kaise Bane?|Carrer in Game Development

क्या आप Game Developer कैसे बने? इसकी जानकारी चाहते है, तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए है।वीडियो गेम्स की मांग आजकल बहुत अधिक बढ़ रही है। लोग अपने मोबाइल और कंप्यूटर में वीडियो गेम खेलते दिखाई देते है।

मार्केट में आजकल विभिन्न प्रकार के गेम्स प्रतिदिन आ रहे है। जो लोगो को अपनी ओर आकर्षित करती है. कुछ दशक पहले बच्चे मैदानों में खेलते दिखते थे, लेकिन अब ये धीरे-धीरे कम होता जा रहा है। बड़े हो या बच्चे सभी बाहर जाकर खेलने के बजाए वीडियो गेम में अधिक समय बिताते नज़र आते है। जिस वजह से गेम डेवलपर की मांग बढ़ रही है।

साथ ही काफी लोग इसमें अपना कैरियर बनाने की सोच रहे है लेकिन सही जानकारी न होने के कारण उन्होंने समझ नही आता की Game Developer kaise bane? इसके लिए मैने इस पोस्ट में आपको game developer से जुड़ी सभी जानकारी बताने वाला हूं. जिसे पढ़कर game development से संबंधित सवाल दूर हो जायेगे. तो इसलिए इस पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े जिससे पूरी जानकारी मिल सके।

Table of Contents

Game Development क्या है? (Game Development Kya Hai)

आप जो गेम्स अपने कंप्यूटर या फोन में खेलते है उनको बनाने की प्रक्रिया गेम डेवलपमेंट कहलाता है। गेम का निर्माण, उसे मैनेज करने वाले गेम डेवलपर होते है। गेम डेवलपर कई तरह से गेम्स बनाते है। डेवलपमेंट के दौरान कई स्टेप होते है जिसमें गेम डिजाइनिंग, कोडिंग, animation, इत्यादि शामिल है। आप किसी भी प्रकार का गेम बना सकते है लेकिन इसके लिए एक टीम का होना आवश्यक है क्योंकि इसमें कई कार्य होते है जिसको एक व्यक्ति द्वारा नही किया जा सकता।

इसे भी पढ़े – सॉफ्टवेयर डेलोपर में अपना कैरियर कैसे बनाए?

Game Developer कैसे बने? |Game Developer Kaise Bane?

Game Developer Kaise Bane

गेम डेवलपमेंट को करियर के रूप में चुनना एक बहुत अच्छा विकल्प है। यदि कोई गेम डिजाइनिंग या डेवलपमेंट में रुचि रखता है तो उसके लिए गेम डेवलपर बनना अधिक कठिन नही होगा। इसके साथ ही इस क्षेत्र में creativity skill और analytics skill बहुत जरूरी है तभी आप इसमें बेहतर प्रदर्शन कर पाएंगे और आपके द्वारा बनाए गए गेम्स लोगो को पसंद आयेगा।

अपनी प्राथमिक शिक्षा पूरा करे

किसी भी क्षेत्र में अपना करियर बनाने का जो पहला कदम है वह यह है कि पहले अपनी प्राथमिक शिक्षा पूरा करना। इसके बाद आगे डिप्लोमा या किसी कंप्यूटर कोर्स की तैयारी करना होता है।प्राथमिक शिक्षा में 12वीं पास करना है। अगर 12वीं कक्षा में कंप्यूटर साइंस का विषय रहता हैं तो बहुत अच्छा है क्योंकि वहां कंप्यूटर और technical skill सिखाई जाती है जो गेम डेवलपमेंट में इस्तेमाल आता है।

कंप्यूटर भाषा सीखे

गेम डेवलपर बनने के लिए सबसे अनिवार्य है कोडिंग सीखना। जिस प्रकार हम एक दूसरे से संवाद करने के लिए भाषा का उपयोग करते है ठीक वैसे ही कंप्यूटर की एक भाषा होती है जिसके द्वारा हम उन्हे कमांड देते है। इस भाषा को प्रोग्रामिंग लैंग्वेज या कोडिंग कहते है। यदि आप गेम डेवलपर बनना चाहते हैं तो यह पता होना चाहिए कि जितने गेम्स बनते हैं उनको बनाने के लिए डेवलपर कोडिंग करता है और गेम की डिजाइनिंग बनाता है।

बिना कोडिंग के न गेम बनता है और न ही डिजाइनिंग संभव है, इसलिए गेम डेवलपर को प्रोग्रामिंग लैंग्वेज आना ही चाहिए क्योंकि सभी गेम का निर्माण कोडिंग द्वारा ही होता है। प्रोग्रामिंग स्किल जितनी अच्छी होगी उतना गेम खेलने में शानदार और smooth रहेगा। साथ ही गेम में bugs भी नहीं मौजूद रहेंगे।

जब आप डिप्लोमा या डिग्री की तैयारी करते है उस दौरान कोडिंग और टेक्निकल स्किल्स जो गेम्स बनाने में काम आती है वो सब सिखाई जाती है। इसके अलावा कई apps और वेबसाइट है जहां से प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखा जा सकता है।

Portfolio बनाए

जब आप कंपनी में नौकरी के लिए आवेदन देते है तो बिना portfolio और रिज्यूम के कंपनी आपका आवेदन तुरंत रिजेक्ट कर देगी। एक डेवलपर के पास कौन कौन सी स्किल है उसकी पूरी जानकारी portfolio में लिखी होती है यदि वही नही होगा तो कंपनी को कैसे पता चलेगा की आपकी स्किल क्या क्या है। यदि आपने खुद का कोई गेम डिवेलप किया है तो उसको भी अपनी resume strength में दर्शा सकते है। ऐसे करने पर नौकरी लगने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है।

Physics और Maths बेहतर करे

जिस प्रकार प्रोग्रामिंग अनिवार्य है गेम डेवलपमेंट के दौरान. वैसे ही Maths और Physics का भी मजबूत होना, क्योंकि गेम बनाने की प्रक्रिया में कई छोटे-मोटे कोडिंग errors आते रहते है, जिसे दूर करने के लिए maths की अच्छी समझ होनी चाहिए। यदि आप BCA या डिप्लोमा डिग्री की पढ़ाई करते है उसमे ये सभी चीजें सिखाई जाती है जिसको आपको ध्यान पूर्वक समझना है ताकि गेम डेवलपमेंट में आने वाली errors को आप दूर कर पाए।

Study वीडियो गेम्स

गेम बनाने से पहले ये जानना भी जरूरी है की गेम कैसे बनता है और कैसे काम करता है। आप वीडियो गेम में इस्तेमाल ग्राफिक, एनीमेशन, साउंड इफेक्ट, आदि चीजें का विश्लेषण करते है।

क्या Game Developer एक सही करियर विकल्प है?

किसी भी क्षेत्र में जाने से पहले मन में सवाल आता है की वह करियर का चयन करना सही है या नहीं।जैसे कि मैंने आपको बताया गेम डेवलपर की मांग लगातार बढ़ती दिख रही है। बच्चे से लेकर युवा सभी को वीडियो गेम्स पसंद आता है। जिससे या पता चलता है कि इस कैरियर में कितना स्कोप है और यदि आप गेम डेवलपर बनते हैं तो वाकई में या एक बेहतरीन करियर विकल्प साबित हो सकता है। पूरी दुनिया के साथ भारत में भी गेमिंग इंडस्ट्री तेजी से बढ़ रहा है। इसलिए काफी लोग इस कैरियर की ओर जाना पसंद कर रहे है।

Game Developers का कार्य भार

एक गेम डेवलपर बनना उतना आसान नही होता जितना दिखता है। इनके ऊपर कई जिम्मेदारियां होती है, जैसे – टीम मैनेजमेंट, गेम डिजाइनिंग, एनीमेशन, ग्राफिक डिजाइनिंग, इत्यादि शामिल है।

Game Development में नौकरियों के प्रकार

गेम डेवलपर बनना एक बेहतर करियर ऑप्शन है यदि आप क्रिएटिव और इसको लेकर आपके अंदर जुनून है। गेम निर्माण में कोडिंग और एनीमेशन के अलावा भी कई कार्य होते है जिसके लिए आप नौकरी का आवेदन दे सकते है –

  • Game Marketer
  • Game Designer
  • Audio Engineer
  • Game Animator
  • Graphic Designer
  • Programmer
  • QA Game Tester

Best Game Development Courses in India

  • Diploma in Game Programming
  • B.Sc in Graphics, Gaming, and Animation
  • Certificate Course in Game Art & DesignMaster’s on Game Developer
  • Diploma in Game Design and Integration
  • M.Sc in Game Design and Development
  • Science and Game Development
  • Integrated Master’s in Animation and Multimedia with art and design
  • Advanced Diploma in Game Art & 3D Game Content Creation
  • Professional Diploma in Game Art
  • B.Sc in Game Design & Development
  • B.Sc in Multimedia & Animation

Best Books for Game Development

  • Game Design Workshop: A Playcentric Approach to Creating Innovative Games
  • Game Theory: An Introduction by Steve Tadelis
  • The Art of Game Design: A Book of Lenses by Jesse Schell
  • Game Engine Architecture by Jason Gregory
  • Unity Game Development Cookbook
  • Unity From Zero to Proficiency

Game Developer बनने के लिए योग्यता

गेम डिजाइनिंग और पब्लिशिंग कंपनियों में ऐसे लोगो की मांग अधिक रहती है जिन्होंने कंप्यूटर साइंस में बैचलर डिग्री या डिप्लोमा किया हुआ है। गेम डेवलपर बनने के लिए ये अनिवार्य नही है की डिग्री होनी ही चाहिए तभी आप बन पाएंगे। यह ऐसा क्षेत्र है जहां डिग्री का महत्व तो है लेकिन अगर डिग्री नही है मगर स्किल और टैलेंट में दम है तो कंपनी स्किल्स देखती है। कई गेम डेवलपर मौजूद है जिनके पास डिग्री नहीं है फिर भी वे बहुत शानदार कार्य कर रहे है।

गेम डेवलपर के महत्वपूर्ण स्किल्स

यदि आप एक बेहतर गेम डेवलपर बनना चाहते है तो कुछ महत्वपूर्ण स्किल है जिसके होने से आप इस क्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन करते है। एक गेम डेवलपर के पास ये कुछ जरूरी soft skill होने चाहिए जिसका इस्तेमाल वह गेम डेवलपेंट के दौरान करता है।

Creativity

गेमिंग इंडस्ट्री में सबसे अधिक मांग creativity skill. की है। इस स्किल के इस्तेमाल से आप अपने गेम में नई चीज़ें लेकर आते है जो आज से पहले लोगो ने कभी न देखा हो. इससे वह गेम प्रसिद्ध होता है। Creativity गेम डेवलपर के दिमाग में अलग अलग ideas उत्पन्न करती है। जिन डेवलपर के पास यह स्किल है, वो अपने गेम को बेहतर करने के उपाय तलाश करते रहेंगे जिससे गेम की ग्राफ़िक्स और एनीमेशन high quality बनती है।

Problem Solving

गेम बनाते दौरान उसकी programming में अनगिनत error आते रहते है। कभी कोडिंग में गलतियां तो कभी animation में। ऐसी परिस्थिति में डेवलपर का दिमाग problem solving होना चाहिए, तभी वह गलतियों को सुधारने में सक्षम होगा। गेम डेवलपमेंट में टेक्निकल प्रोब्लम, कोडिंग errors, ग्राफ़िक्स error आते रहते है। डेवलपर पहले analysis करते है की प्रोब्लम कहाँ है और इसको कैसे दूर किया जाए? प्रोब्लम सॉल्विंग स्किल का सबसे बड़ा फायदा यह है की डेवलपर तरह तरह के techniques इस्तेमाल करते है उस गेम में मौजूद कमियों को दूर करने के लिए।

Teamwork Skill

गेम खेलना जितना आसान है उसे बनाना उतना ही कठिन। एक गेम बनाने के पीछे कई लोगो की कड़ी मेहनत होती है। गेम की डिजाइनिंग, प्रोग्रामिंग, डेवलपमेंट, एनीमेशन, मार्केटिंग, जैसे कई कार्य होते है। इन सभी कार्यों को सिर्फ एक डेवलपर के लिए संभालना बहुत मुश्किल है। इसीलिए गेम डेवलपर की एक टीम होती है। टीम के हर सदस्य का कार्य अलग अलग रहता है कोई गेम की डिजाइनिंग पर ध्यान देता है तो कोई उसकी एनिमेशन में। एक गेम डेवलपमेंट में पूरी टीम कार्य करती है, जिसे मैनेज करने के लिए teamwork skill बहुत जरूरी है।

Communication skills

Game Developer के लिए कम्युनिकेशन एक महत्वपूर्ण स्किल है जिससे की वे अपने idea लोगो के सामने रख सके साथ ही टीम में मौजूद अन्य डेवलपर को भी कार्य के बारे में समझा सके। इसमें written के साथ साथ verbal communication skills भी शामिल है। Written स्किल की जरूरत डेवलपर को वीडियो गेम रिपोर्ट बनाने में मदद करती है जबकि verbal कम्युनिकेशन स्किल का इस्तेमाल अपने टीम मेंबर को गेम्स की डिजाइनिंग और presentation देते वक्त काम आता है।यदि आपको कम्युनिकेशन स्किल्स के ऊपर और भी विस्तार से जानना है तो हमने एक लेख भी लिखा है जिसे आप पढ़ सकते है। वहां इसकी पूरी जानकारी मिल जाएगी।

Adaptability (परिवर्तन के लिए तैयार रहना)

यह डेवलपर के लिए एक प्रकार का key skill है, क्योंकि गेमिंग इंडस्ट्री में हर दिन नए नए गेम्स आते रहते है ऐसे में यदि आप उसके साथ खुद को अपग्रेड नही करोगे तो गेम डेवलपमेंट में बहुत परेशानी होगी। यदि कोई गेम डेवलपर बदलाव के लिए तैयार रहता है वो गेम डेवलपमेंट में बहुत अच्छा कार्य करता है।

गेम डेवलपर का वेतन

यदि अगर हम बात करे भारत में गेम डेवलपर की सैलरी की तो ये लगभग 4 से 5 लाख के बीच रहता है। जैसे जैसे आपका अनुभव कंपनी में बढ़ता जाएगा, आपको वेतन भी अधिक मिलने लगेगा। आप कौन सी कंपनी में कार्य कर रहे है ये भी काफी महत्वपूर्ण है क्योकि हर कंपनी में Game Developer की सैलरी अलग होती है। यदि आपको नौकरी भी करनी है तो आप खुद का गेम डिवेलप करके बेच सकते हो उससे अच्छी कमाई हो जाती है।

Game Developers क्या करते है?

जितने भी गेम आप अपने कंप्यूटर या मोबाइल फोन में खेलते है, उन सभी का निर्माण गेम डेवलपर करते है। इसके साथ ही गेम के सर्वर को मेंटेन करना तथा मैनेज करने के सारा कार्यभार एक गेम डेवलपर का होता है।

गेम डेवलपमेंट के बेस्ट कॉलेज

भारत में कुछ उत्तम कॉलेज जहां गेम डेवलपमेंट की सबसे अच्छी पढ़ाई होती है –

COLLEGE NAME PLACE
Chitkara UniversityPunjab
Parul UniversityGujarat
MUIT NoidaUttar Pradesh
NID AhmedabadGujarat
Whistling Woods InternationalMumbai
MIT Institute of DesignPune
Pearl AcademyMumbai
Artemesia College of Art and DesignIndore
Creative Mentors Animation & Gaming CollegeHyderabad
Arena Animation SayajigunjGujarat

FAQs: Carrer In Game Developer


गेम डेवलपर बनने के लिए सर्टिफिकेट जरूरी है क्या? 

जी नहीं, यदि आपको गेम डिजाइनिंग और कोडिंग की अच्छी समझ है, तो सर्टिफिकेट की कोई जरूरत नही है। इस क्षेत्र में स्किल्स पर अधिक ध्यान दिया जाता है।

गेम डेवलपर के लिए बेस्ट प्रोग्रामिंग लैंग्वेज कौन सी है? 

सबसे अधिक उपयोग होने वाला लैंग्वेज है, C++, HTML जिससे अधिकतर गेम्स का निर्माण होता है।

Game developer बनने में कितना समय लगता है?

यदि आप bachelor डिग्री करते है उसमें 4 साल उसके बाद गेम डिजाइजिंग में बैचलर डिग्री में और 2 से 3 सालो का समय लगता है।


क्या गेम डेवलपर बनना कठिन है? 

यदि आपको कोडिंग और गेम डिजाइनिंग में दिलचस्पी है, तभी इस कैरियर को चुने ताकि गेम डेवलपमेंट सीखने में आपको मज़ा आए।

आज क्या सीखा?

उम्मीद करता हूं, आज का यह आर्टिकल से आपको Game Developer kaise bane? इसके लिए कौन सा कोर्स या डिग्री सही रहेगा? और इसी तरह के संबंधित जानकारी बताई है। यदि यह लेख आपको पसंद आया हो तो दोस्तो के साथ शेयर जरुर करे और अपने सवाल कॉमेंट बॉक्स में पूछ सकते है।

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए धन्यवाद ! 

Photographer Kaise bane?

Leave a Comment