swot analysis kya hai

Swot Analysis क्या हैं और कैसे करते है?

Swot विश्लेषण या (Analysis) के बारे में बहुत कम लोग जानते है। Swot Analysis का सबसे ज्यादा उपयोग कंपनी में किया जाता है, जहा पर कई लोग एक साथ काम करते है, एक काम प्रोडक्शन या सर्विस प्रोवाइडर का हो सकता है। Swot विश्लेषण शब्द को 1960 के दशक में अल्बर्ट हम्फ्री द्वारा बनाया गया था, यह एक थ्योरी है, जिसमे कंपनी के ताकत, कमजोरी, अवसर उसके प्रोडक्शन आदि की जानकारियों का समुचित ढांचा तयार होता है।

हम आपको आज की इस पोस्ट में SWOT Analysis Kya Hai, SWOT का क्या उपयोग है, SWOT Analysis Kaise Kare,और स्वाट विश्लेषण कौन-कौन कर सकता है आदि सभी के बारे में आपको पूरी जानकारी प्रदान करेंगे।

SWOT Analysis का full form क्या है?

swot analysis full form

SWOT को निम्न चार भागो में बाटा गया है जैसे – 

  1. S  – सामर्थ्य Strength 
  2. W – कमजोरी Weakness 
  3. O – अवसर Opportunities 
  4. T – खतरा  Threat 

इन सभी चार भागो से SWOT बना है।

Swot Analysis क्या है ?

SWOT विश्लेषण किसी संस्था या कंपनी की एक रणनीतिक योजना तकनीक है। जिसका उपयोग किसी व्यक्ति या संगठन को व्यावसायिक प्रतिस्पर्धा को देखने में किया जाता है।  यदि आपकी कोई  कंपनी है जिसमें किसी तरह का उत्पादन होता है, तो आपको भी  स्वाट विश्लेषण की जरूरत होगी इसके माध्यम से कंपनी की Strength, Weakness, अवसरों (Opportunities) और आने वाले टारगेट को कैसे पूरा करना है।  नए प्रोजेक्ट को लेने में कोई खतरा है या नहीं यह सभी कुछ आप स्वाट विश्लेषण के माध्यम से आसानी से जान सकते है।

SWOT विश्लेषण का मुख्य कार्य काम करने वाले कर्मचारी या हमारे अंदर की ताकत ,कमजोरी की पहचान करना होता है।  इसके माध्यम से हम हमारे लिए नई चुनौतियों की पहचान कर सकते है।  यह एक शब्द नहीं है, इसके विश्लेषण करने की एक तकनीक होती है।  जो कि हमारे अन्दर के कार्य करने की क्षमता और अवसरो की पहचान करती है।  इसकी मदद से हम किस संस्था की भविष्य की रूपरेखा को निर्धारित कर सकते है।

SWOT Analysis कैसे करें?

swot analysis kaise kare

  स्वाट विश्लेषण करने के कई तरिके है।  हम आपको इसे कैसे करना है, इसके बारे में पूरी जानकारी प्रदान करेंगे। यदि आप एक organisation से जुड़े है और उसका   स्वाट विश्लेषण करना चाहते है, तो आपको अपने सभी भागो के लीडर के साथ मीटिंग अरेंज करना होता है। इससे आप उस डिपार्टमेंट में हो रहे कार्य की समीक्षा करे और उसकी ताकत और कमजोरी की पहचान करे।  यदि आपको उस टीम में किसी चीज की जरूरत है तो वह उसे उपलब्ध करवाए।

सभी विभागों में नए अवसर और चुनौतियों की पहचान करे। इससे आपको अपनी टीम और organisation के बारे में लोगो का नज़रिया जानने का अवसर मिलता है। इसके अंदर जो भी निर्णय लिए जाते है उसमे सभी लोगो की सहमति होना जरुरी होता है।

 स्वाट विश्लेषण का इस्तेमाल करना सबसे ज्यादा रणनितिक योजना और Marketing मैनेजमेंट के लिए किया जाता है।  यह इस तरह के कार्यो को करने में इसका उपयोग करने से काफी फायदा होता है। SWOT को हमेशा दो तरह से बाँट जाता है। SW और OT यानि ताकत ,कमजोरी और दूसरे भाग में अवसर और खतरे।  यदि अपने कम्पनी के इन चार हिस्सों को बेहतर तरिके से पहचान लिया है तो आपको इसका फायदा जरूर मिलता है। आज के दौर में सभी के बीच ज्यादा पर्तिस्पर्धा होने के कारण   स्वाट विश्लेषण को करना बहुत जरुरी हो गया है। आज कई कम्पनी 6 -12 महीने में स्वाट विश्लेषण करती है।  इससे बिज़नेस और स्टार्टअप आगे बढ़ता रहता है।

कम्पनी की टीम को एकत्र करने के बाद सभी के विचार अपने अनुसार रखने को कहे, इससे आप बेहतर स्थिति को जान पाएंगे और उसके बाद ही विचार-मंथन करके अपने नतीजे पर पहुंचे। कुछ निष्कर्ष लेने के लिए आप वोटिंग प्रणाली का उपयोग भी कर सकते है।  यदि आपके पास ज्यादा लोगो के विचार की जरूरत है, तो यह तरीका सबसे बेहतर होता है। इस तरह से आप अपने लिए  स्वाट विश्लेषण की  प्रक्रिया को पूर्ण कर सकते है।

SWOT Analysis कौन कौन कर सकता है ?

  स्वाट विश्लेषण करने की सभी को जरूरत नहीं होती है।   स्वाट विश्लेषण क्या है हमें आपको ऊपर बताया है।  अब हम आपको बताएँगे की इसे कौन कौन कर सकता है। और इसे कब किया जाना आवश्यक होता है।

New Product Launch – यदि आपकी कंपनी मार्केट में कोई नया प्रोडक्ट लाना चाहती है, या पुराने प्रोडक्ट में कुछ बदलाव करना चाहती है तो आपको   स्वाट विश्लेषण करने की आवश्यकता होती है।  इससे आप प्रोडक्ट की weekness और उसकी सफलता का आकलन कर सकते है।

Competitor Evaluation – मार्किट में सभी कम्पनी और संस्था के प्रतिस्पर्धी रहते है, अगर आप उनका आकलन करना चाहते है, तो आपको अपना और अपनी प्रतिस्पर्धी टीम का SWOT देखना जरूरी होता है।  

सर्विस और Product Evaluation आपको कम्पनी सर्विस और Product के साथ कार्य करते है तो आपको उसकी पूरी तरह से जानकारी प्राप्त  करने के लिए   स्वाट विश्लेषण करना जरूरी होता है।  इसके माध्यम से आप प्रोडक्ट की कमजोरियों और उसकी ताकत का पता आसानी से लगा सकते है।

नयी Planning के लिए – कोई नयी रणनीति लाना चाहते है, तो आपको उसके लिए सबसे  पहले अपने कर्मचारियों और उच्च अधिकारियों के साथ मीटिंग कर उस रणनीति का Analysis करना होता है।  यदि उसमें कोई बदलाव करना हो तो आप उसके बाद  आसानी से कर सकते है।  

मुख्यत 3 तरह के लोग   स्वाट विश्लेषण करते है जिनको सबसे ज्यादा जरूरत होती है और इसका फायदा भी होता है 

  1. सबसे ज्यादा उपयोग इसका Job करने वाले कर्मचारी करते है, इससे यह अपनी कमजोरियों और स्ट्रेंथ का पता लगा सकते है।  

कब करते है –

  • जब ज्यादा मात्रा में outputs प्राप्त नहीं होता है।  
  • नयी जॉब की  तलाश करने और पुरानी जॉब छोड़ने के लिए 
  • अपनी performance को बेहतर करने के लिए 
  • जॉब में दिए गए टारगेट को प्राप्त करने के लिए 
  • अपना स्वयं का business start करने के लिए
  1. Business करने वाले विभाग जो अपने कर्मचारियों और अपने संस्था की कमजोरियों और नए अवसरों को पहचान करने के लिए करते है।  

कब करते है –

  • customer को अपनी बेहतर service प्रदान करने के लिए 
  • अपनी team के लिए नए टारगेट देने से पहले 
  • नया business लगाने के लिए। 
  • किसी विशेष कार्य को करने के लिए Team leader का चुनाव करने से पहले।  
  1. उत्पादन करने वाली Company जो प्रोडक्ट या सर्विस को और बेहतर बनाने के लिए  स्वाट विश्लेषण का उपयोग करते है।
  • Market में आने वाले उतार चढ़ाव को जानने के लिए 
  • share के प्राइस को बढ़ाने या कम करने के लिए 
  • प्रोडक्ट cost और उत्पादन expenses को कण्ट्रोल करने के लिए 
  • Industry environmental में कुछ बदलाव करने के लिए 
  • व्यापर के लिए strategies लाने से पहले

SWOT Analysis के लाभ?

  स्वाट विश्लेषण करने के कई तरह के आपको लाभ प्राप्त होंगे। यह तकनीक काफी समय से व्यवसाय मे प्रयोग आ रही है और इसके फायदे भी होते है। यह व्यवसाय रणनीति की बैठकों को निर्देशित करने का एक शानदार तरीका है। इसके द्वारा आप  एक स्थान पर एकत्र होकर कंपनी की मुख्य ताकत और कमजोरियों का पता लगा सकते है। और कपंनी पर आने वाले खतरे को देख सकते है, जिससे किसी प्रकार का नुकसान हो सकता है। कम्पनी को आगे बढ़ाने के लिए शक्तिशाली अवसर की तलाश करते है।   स्वाट विश्लेषण का उपयोग करने से कंपनी समग्र व्यापार रणनीति के लिए सही तरह से कार्य कर सकती है।

SWOT विश्लेषण में मुख्य लाभ इस प्रकार है –

  • SWOT विश्लेषण businesses की planning करने में मदत करता है। 
  • व्यवसाय की strength , weakness , opportunity  और threat का पता लगाया जा सकता है।  
  • इसके माध्यम से कंपनी के समग्र डाटा को एकत्र  किया जा सकता है।  
  • व्यवसाय के प्रतिस्पर्धी को पहचाना जा सकता है।  
  • इससे productivity को बढ़ाया जा  सकता है।  
  • किसी  समस्या का हल निकालने में मदद करता है। 
  • व्यवसाय के Profits को बढ़ाने में मदद करता है।  
  • व्यवसाय की कमजोरी का पता लगाकर ख़त्म करने में मदद  करता है।  
  • व्यवसाय की वास्तविक स्थिति की जानकारी प्रदान करता है।

SWOT Analysis के दोष?

जहा   स्वाट विश्लेषण करने के बहुत सारे फायदे है, वही इसके कुछ दोष भी है। जैसे –

  • बहुत से कारणों का पता लगाने के लिए कई बार ज्यादा कठिन process बन जाता है। 
  • बड़ी कम्पनियो के लिए इसमें ज्यादा व्यय हो सकता है।  
  • कई सारे विचारो और मतों के मिलने से कई बाद परिणाम पर पहुंचना मुश्किल हो जाता  है। 
  • इसके सभी परिणाम सही नहीं होते है, यह मात्र हमे सुझाव प्रदान करते है।  
  • यदि आपकी कम्पनी में ज्यादा weakness का पता लगाया गया है, तो प्रबंधन मुश्किल हो जाता है। 
  • इसके परिणाम अच्छे और बुरे दोनों हो सकते है।  

SWOT Anyalsis कैसे लागू किया जाता है?

जब हम किसी कम्पनी का  स्वाट विश्लेषण पूर्ण कर लेते है, तब उसको हमें अमल में लाना जरूरी होता है।  यदि आप   स्वाट विश्लेषण के निष्कर्ष को अमल में नहीं लाते है, तो आपको इसका Analysis करना व्यर्थ है। इसे लागु करने के लिए आप निम्न तरीके अपना सकते है।  जैसे –

  •   स्वाट विश्लेषण के आंतरिक और बाहरी वातावरण का विश्लेषण करके उसे दोनों तरह से लागू किया जा सकता है।
  • व्यापार की ताकत और कमजोरी को पहचानें के बाद इसको दूसरों करने की कोशिश करना।
  •   स्वाट विश्लेषण में यदि कोई कर्मचारी योग्य नहीं पाया जाता है, तो उसकी जगह योग्य व्यक्ति की तलाश करना।
  • Analysis  के बाद मिलने वाले  अवसरों को लागू करना, जिससे कंपनी को ज्यादा से ज्यादा फायदा हो सके।
  • कंपनी के लिए सही कार्ययोजना बनाकर कार्य को शुरू करना।

SWOT Analysis की कोई Reference Book?

  स्वाट विश्लेषणमें कई विशेषज्ञों द्वारा अपनी राय को रखा गया है।  इसके लिए आप निम्न books का reference ले सकते है।

Managing Oneself – Author Peter F. Drucker

The SWOT Analysis – Author lawrence G Five 

SWOT Analysis – Author Poul Newton

अंतिम शब्द – 

हमने आपको आज की इस पोस्ट में स्वॉट एनालिसिस SWOT Analysis Kya Hai और SWOT Analysis Kaise Kare को समझाने की कोशिश की है।  हमे आशा है, की आपको   स्वाट विश्लेषण के बारे में सभी जानकारी प्राप्त हो गयी है। इसके अंदर आपको दो तरह के मुख्य कारक देखने को मिलते है जिसमे पहला आंतरिक कारक है, जिसमें आंतरिक रूप से मामले को नियंत्रित करने के कार्य को किया जाता है। दूसरा बाहरी कारक होता है, जिसमे बाहरी परिस्थिति को देखा जाता है, इसमें आपके प्रोडक्ट की जानकारी और उसे प्रतिस्पर्धी के बारे में विश्लेषण मिलता है। आज ऐसी कई कंपनियां है, जिसने  स्वाट विश्लेषण का उपयोग करके अपने व्यापार की स्थिति को सुधारा है।

-धन्यवाद

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *