Medical Fitness Certificate कैसे बनवाए [2022] मे ?

Join Us On Telegram

Medical Fitness Certificate in Hindi, मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट किसे बोला जाता है और ये कैसे बनता है?: कोरोना, ओमीक्रॉन या अन्य bimari आज के दूर में जल्दी बढ़ने लगती है। ऐसे में किसी कंपनी(company) या कही दूसरी country जाने के लिए खुद को पूरी तरह स्वस्थ (health) साबित करना पढता है। आजकल लगभग हर तरह की जॉब और कंपनी में भी भर्ती के समय एजुकेशन सर्टिफिकेट के साथ साथ मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट भी दिखाना compulsory हो गया है। आज के इस लेख में हम इसी पर चर्चा करने जा रहे है। की मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट क्या है? और कैसे बनाया जाता है। और इसकी आखिर क्या जरूरत (need) होती है?

मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट क्या है? (What Is Medical Fitness Certificate) 

मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट(Medical Fitness Certificate) एक प्रकार का फिटनेस प्रमाण पत्र होता है। जो इस बात की पुष्टि(ensure) करता है। की medical check up करवाने वाला व्यक्ति फिट है या नहीं। 

ये सर्टिफिकेट कोई रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर (मेडिकल practitioner और doctor) ही बना के देता है। लेकिन ये सर्टिफिकेट बनाने से पहले मेडिकल प्रैक्टिशनर पूरी तरह से चेकअप(check up) करता है। ताकि वो ये जान सके की चेकअप कराने वाले को बीमारी तो नहीं है। 

ये certificate अक्सर कुछ जॉब्स (jobs) जैसे पुलिस या कोई डिफेन्स जॉब (defence jobs) आदि में माँगा जाता है। लेकिन जैसा की आप सब जाते है, की पिछले कुछ समय से कोरोना ख़त्म ही नहीं हो रहा इसलिए multinational company (MNC) भी आजकल जॉब देते समय मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट मांगती है। ताकि ये सुनिश्चित कर सकें की उनकी कंपनी में काम करने वाले employees पूरी तरह से मेडिकल फिट या healthy है। 

कभी कभी जब स्कूल या कॉलेज में 4 या 5 दिन से ज्यादा जब कोई विद्यार्थी(students) छुट्टी करता है। तब उन्हें भी मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट(Medical Certificate) स्कूल में जमा करना होता है। ताकि स्कूल या कॉलेज ये जान सके की आप सच में बीमार था, इसलिए इतनी छुट्टी की। 

मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट का प्रयोग(Medical Fitness Certificate Use)

इस सर्टिफिकेट के काफी सारे uses होते है, नीचे हमने विस्तार से एक एक करके सब बताये है –

ट्रैकिंग(trekking) करते time भी इस सर्टिफिकेट की जरुरत पढ़ जाती है, या किसी भी ऐसी टूरिस्ट डेस्टिनेशन (tourist destination) जहा शारीरिक फिटनेस की जरुरत हो। वहां इस सर्टिफिकेट की जरुरत पढ़ जाती है। 

जैसा की हमने ऊपर बताया था, की डिफेन्स job में हमेशा इस सर्टिफिकेट की jarurat पढ़ती है। ऐसे में अगर आप किसी डिफेन्स जॉब के इंटरव्यू में जा रहे है। तो और दस्तावेज के साथ आपको इस सर्टिफिकेट को भी दिखाना होगा। 

अगर aap लम्बे समय से बीमार चल रहे है। और इस कारण अपने काम पर नहीं जा पा रहे। तो आप अपने ऑफिस(office) में इस सर्टिफिकेट को जमा कर सकते है, इससे आपकी जॉब बच जायेगी। 

जब कोरोना फैलना शुरू हुआ था, तब से लगभग हर जगह इस सर्टिफिकेट की जरुरत पढ़ जाती है। जैसे अगर आप विदेश(foreign country) घूमने जा रहे है। तब भी सबसे पहले आपको मेडिकल चेकअप कराना होगा किसी रजिस्टर्ड डॉक्टर से, और जब वो डॉक्टर आपको medical fit घोषित kar देगा। तभी आप विदेश घूमने जा सकते हो अन्यथा नहीं। 

Medical Fitness Certificate kaun issue kar sakta hai? 

मेडिकल सर्टिफिकेट कोई डॉक्टर या कोई मेडिकल प्रैक्टिशनर ही इशू कर सकता है। जो एक MBBS ग्रेजुएट हो। और साथ ही जो ऑलरेडी (already) medical council में रजिस्टर्ड(registered) हो ज्यादातर मेडिकल सर्टिफिकेट एक सरकारी पंजीकृत डॉक्टर(government approved doctor) या फिर मेडिकल प्रैक्टिशनर ही इशू कर के देता है। 

मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट की वैलिडिटी (Validity)

ज्यादातर मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट की validity सिर्फ 15 दिन ही होती है। उसके बाद आपको ये रेनू (renew) करवाना या दोबारा से बनवाना पड़ता है। ज्यादातर टाइम ये सर्टिफिकेट kisi एडमिशन (admission) या जॉब (job) के टाइम जमा करना होता है। उसके बाद दोबारा नहीं देना पढता। पर फिर भी कुछ एजेंसी और government organizations समय समय पर मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट जमा करने के लिए बोलती है। 

मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट पर क्या लिखा होता है?

Medical फिटनेस सर्टिफिकेट पर आपका नाम (Name), आयु (Age) और aapka चेकअप (checkup) कैसा रहा? आप फिट है या नहीं? ये सब और जिस मेडिकल प्रैक्टिशनर ने सर्टिफिकेट इश्यू (issue) किया होता है, उसके हस्ताक्षर होते है। 

कोविड 19 (Covid 19) का Medical Fitness Certificate format 

सिर्फ कोविड 19 (Covid 19) का चेकअप ही नहीं बल्कि विदेश यात्रा (foreign tour) के समय fit-to-fly सर्टिफिकेट भी दिखाना पड़ता है।  ताकि आप जिस देश जा रहे है, वहां की अथॉरिटी (authority) ये जान सके की आप एक दम फिट है। और आपको कोई बीमारी नहीं है। इससे ये सुनिश्चित हो जाता है। की आपको कोई बीमारी नहीं फैलती।  

नीचे लिखा certificate format ऐसा ही एक मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट है जो आपको किसी यात्रा के दौरान दिखाना होगा।  

“I(मै) …….. एक registered मेडिकल practitioner हूँ। aur में इस baat की पूरी tarah से पुष्टि karta hu की Mr/Mrs……. जिनकी आयु ….. है और जो इस ……. जगह पर रहता है कोविड 19 से पूरी तरह फ्री है। और साथ ही किसी तरह की कोई बीमारी नहीं फैलाएंगे। ये पूरी तरह स्वस्थ या मेडिकली फिट (medically fit) है।” 

इस तरह की ऊपर दी हुई जानकारी ही मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट में लिखी होती है। इसी जानकारी के दम पर कोई भी organization जॉब या यात्रा के लिए permission देती है।

ये भी पढे :-Provisional Certificate क्या है और इसे कैसे डाउनलोड करे ?

First Graduate Certificate क्या है और कैसे बनवाए ?

Download Medical Fitness Certificate PDF 

Medical Fitness Certificate किसे बोला जाता है?

मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट एक प्रकार का fitness certificate होता है। जो इस बात की पुष्टि(ensure) करता है। की medical check up करवाने वाला व्यक्ति फिट है या नहीं।

मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट की validity कब तक होती है?

Medical फिटनेस सर्टिफिकेट की validity सिर्फ 15 दिन ही होती है।

1 thought on “Medical Fitness Certificate कैसे बनवाए [2022] मे ?”

Leave a Comment