entrepreneur skills hindi

Entrepreneur Skills: परिभाषा और उदाहरण

Entrepreneur Skills kya hai: हेलो दोस्तों  जैसा की आप लोग जानते है की startup india के  तहत हर कोई अपना खुद का बिज़नेस शुरू कर रहा है किसी भी बिज़नेस को सफल बनाने के लिए व्यक्ति में Entrepreneur skill का होना बहुत जरुरी है आज के इस latest article में हम Entrepreneur skill के बारे में ही बात करेंगे

उधमिता कौशल क्या है ? (entrepreneur skills kya hai)

उघमिता कौशल (entrepreneur skill) एक ऐसा कौशल है जिसका प्रयोग करके मार्केट मे आने वाली बाधाओं(hurdle)से बचा जा सकता है जो की समस्या समाधान, नए विचारों (New thinking) द्वारा उत्पादन (production) मे बढ़ावा कर सकते है अगर इस कला का विकास व्यक्तियों में है तो वह अपने विचारों द्वारा इस क्षेत्र मे कदम रख कर काफी लोगों को रोजगार दे सकते है व स्वयं एक सफल उधमी (entrepreneur) बन सकते हैं अब बात ये है की कौशल किस प्रकार का होना जरूरी है 

कौशलपूर्ण व्यक्तियों (entrepreneurship skilled person) मे इस प्रकार होना जरूरी है जो की अपने सॉफ्ट कौशल (soft skill) व हार्ड कौशल (hard skill) के द्वारा व्यापार मे मजबूती बनाऐ रखते है अब आप सोच रहे होंगे की यह सॉफ्ट व हार्ड कौशल क्या है l तो आपको बता से की सॉफ्ट (soft skill) से अभिप्राय उन कलाओ से है जो एक उधमि मार्केट के अंदर कार्य करने के लिए अपने आंतरिक गुण (Internal quality) को समाय हुए है

जैसे बातचित करने का तरीका, सहनशीलता, समायोजन (Adjustment ) , उच्च रणनीतिक विचार (High technique thiking)  , मार्केट मे कार्य करने के विभिन्न नीतियाँ,  आने वाली परेशानी को झेलनें की समता व निर्णय समता और उत्पादन समता को कैसे बढ़ाए आदि का ज्ञान होना अनिवार्य हैं l और हार्ड कौशल (hard skill) से तात्पर्य मार्केट को संभाला कैसे जाए, अकाउंट का ज्ञान,  आर्थिक प्लान आदि शामिल किए गए हैं

Entrepreneur कौन होता है?

Entrepreneur उस व्यक्ति को बोला जाता है जो कुछ नया start करता है जैसे कोई business या कोई company आदि Entrepreneur किसी भी idea को जीरो से शुरू करता है और अपने idea को पूरी मेहनत से सफल बनाने की कोशिश करता है साथ ही अपनी team को उत्साहित करता है ताकि सब मिलकर काम करे और पूरी निष्ठा से इस कंपनी को सफल बनाने का प्रयास करे Entrepreneur व्यक्ति एक leader की तरह होता है जो अपनी कंपनी की हर छोटी बढ़ी बातो पर नजर रखता और कौन से decision से कंपनी को क्या फायदा होगा इन सब बातो का भी ख्याल रखता है।

उधमिता (entrepreneurship) क्या हैं ?

ऐसे व्यक्ति जो नये विचार व खोज से व्यापार को इस तरह चलाते हैं ताकि बाजार मे व्यापार को आर्थिक रूप से फायदा हो l जिससे किसी संगठन(Organisation) को नये विचारों के साथ तथा नये उदेश्य को शामिल करके उसे पुनःनिर्माण किया जाता है l इसका सबसे स्पष्ट स्थिति एक व्यवसाय को आरम्भ करने से है l

एक सफल उधमि के गुण (Qualities of successful entrepreneur) 

अभी तक हमने जाना की entrepreneur skills kya hai पर अब हम जानेंगे की एक सफल उधमि वो क्या गुण होते है जो उसे सफल बनाते है –

  • नैतिक गुणों (Moral ability) का होना जरूरी है क्योंकि अगर उसमे नैतिक गुण होंगे तो अन्य कर्मचारी भी सही ढंग से कार्य करेंगे और अपनी रुचि दिखाने का प्रयास करेंगे l
  • समायोजन (Adjustment) होना जरूरी है जिससे उनमे एकता की भावना नजर आएगी और एक उधम मे एकता उत्पादन मे बहूत ही जरूरी पहलू है l
  • तार्किकता और बोधिक सोच (Reasoning ability and mental ability) समझ का होना अनिवार्य है l क्योंकि कई बार ऐसी परिस्थिति आ जाती है जहाँ हमे जल्दी और स्पष्ट निर्णय लेना पड़ता है l 
  • एकता और स्पष्ट लक्ष्य (Unity and Obvious goal) भी उधम को एक गति मे लेकर चलते है जिससे उत्पादन की गति मे तेजी आती है क्योकिं जब लक्ष्य एक होतो काम करने की मन लायक कार्य भी सही दिशा में किया जाता हैं l
  • Coordination(सह-संबंध)

उधमि (entrepreneur) कौशल कितने तरह के हो सकते है ? और किस तरह उन पर ध्यान दिया जा सकता है ?

ntrepreneur skills kya hai को ध्यान मे रखते हुए उन पर काम किया जा सकता है जो की किसी उधमि कार्य मे सहायक सिद्ध हो सकते हैं जो की इस प्रकार है l

नेता का गुण जिस व्यक्ति मे होता है l वह अपने कार्यकर्ताओ के साथ मिलकर उन्हे अनुशासन मे लेकर चलता है ताकि होने वाले कार्यो मे कोई देरी ना हों l और चलने वाला उधम नियमो के अनुसार व कुछ समय के बंधन मे बंध कर अपनी गति में चलेl

जो व्यक्ति अपने उधम को जरूरत के समय हर जरूरी चीजों का प्रबन्ध जल्द से जल्द करा लेता हैं और उसकी कार्य प्रणाली मे कोई कमी न आए जिससे प्रबन्धक हर एक प्रयास करता हैं l

  • एकाग्रता का कौशल(concentration skill) 

इससे तात्पर्य उस गुण से है जिसमे एक उधमि एकाग्रता से कार्य कर्ता है और ऐसे महत्वपूर्ण योजनाओ का समायोजन करता है जिससे किसी उधम के विकास मे बढ़ोतरी हो और उधम गतिशीलता से कार्य करें l

  • जोखिम उठाने का कौशल (Risk taking skill) 

 एक उधमि मे अपने कर्म के प्रति वफादार होने के साथ जोखिम को लेने व उसे सहने की शक्ति का होना भी जरूरी है क्योंकि जोखिम लेने के अवसर से ही कुछ नया अविष्कार को देखा गया हैं इसलिए ऐसी समता का होना भी जरूरी हैं l

  • कुछ अलग करने का कौशल(unique work) 

एक उधम विकास तभी कर सकता है जब एक उधमि अलग लक्ष्य को लेकर साथ चले l ऐसे करने से अन्य उधम को भी प्रतिस्पर्धा का मौका मिलेगा और उत्पादन समता मजबूत होंगी l

  • तार्किक क्षमता (Reasoning ability) ,  समस्या समाधान(problem solving)और जुड़ाव का कौशल(chain skill) 

एक उधमि मे इन सभी कौशल का होना अनिवार्य है क्योंकि सर्वांगीण कौशलो(All round skill) से पूर्ण व्यक्ति ही कुछ नये विचारों , जुड़ाव , व ज्ञान और तार्किक समता के माध्यम से उत्पादन समता मे बढ़ोतरी का परिणाम होता हैं l जो की उधम के विकास मे महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं एक उधमि आ रही परेशानियों व समस्याओं को तार्किक रूप से समाप्त करने का भरपूर प्रयास करता हैं l

Entreprenur skills को कैसे improve करे?

उधम कौशल को बढ़ने के लिए एक उधमि को विभिन्न प्रकार के स्त्रोतों की सहायता लिया जा सकता है l जैसे डेली पत्रिकाओं को पड़ना, समाचार सुनना(News listen), रोज की बजार(daily Market prize) दशा का ज्ञान रखना,  मार्केट मे  आने वाले बिज़नेस कोर्स मे एनरोल करना,  प्रोडकास्ट(prodcast)को सुनते रहना आदि के द्वारा कौशल को बढ़ाया जा सकता हैं l

Entreprenur skills को जॉब मे प्रयोग कैसे करें ?

कोई भी कम्पनी अपने कार्यकर्ता(worker) मे जो खूबियां देखना चाहती है वह व्यापक होना जरूरी है देखा गया है की कोई भी कम्पनी का मालिक अपने कम्पनी मे उच्च सहकर्मी (co operator) को साथ लेकर चलना चाहेगा l इस लिए आप कुशाग्र बुद्धि का प्रयोग करके कम्पनी के मालिक को खुश कर सकते है l वहाँ पर मानसिक बुद्धि का प्रयोग कर आप कम्पनी या उधम के प्रोग्रेस मे भली भाँति योगदान दे सकते हैं l

Entrepreneur skill के क्या फ़ायदे है?  

समायोजन(Adjustment) करने व अपना खुद का उधम स्थापित करने मे एक सहायक की भूमिका अदा करने में महत्वपूर्ण हैं ये कौशल न केवल एक उधम मात्र बल्कि जीवन के किसी भी क्षेत्र मे नियमो के अनुसार कार्य कर सकता है l
जैसा की पहले ही बता दिया गया की  एक उधमि मे इन सभी कौशल का होना अनिवार्य है क्योंकि सर्वांगीण कौशलो (All round skill) से पूर्ण व्यक्ति ही कुछ नये विचारों , जुड़ाव , व ज्ञान और तार्किक क्षमता के माध्यम से उत्पादन क्षमता मे बढ़ोतरी का परिणाम होता हैं l जो की उधम के विकास मे महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं एक उधमि आ रही परेशानियों व समस्याओं को तार्किक रूप से समाप्त करने का भरपूर प्रयास करता हैं l

एक सफ़ल उधम( entrepreneur) को चलाने के लिए coordination का होना ज़रूरी है जिसके द्वारा उधम मे मजबूती बनी रहती हैं ये coordination एक नीव का काम करती है जिससे कर्मचारियों तथा leader का तालमेल बना रहता है l

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *