elon musk biography in hindi

Elon Musk Biography in Hindi – एलन मस्क केस स्टडी 2021

कुछ लोग दुनिया को देखने आते हैं तो कुछ लोग दुनिया को दिखाने! लेकिन ऐसे कितने ही लोग हैं जो ना देखने आते है ना दिखाने बल्कि उनका मकसद तो इस दुनिया को बदलना हैं। आज हम जिस शख्शियत के बारे में जानेंगे वो कुछ इसी प्रकार के हैं। उनका मुख्य उद्देश्य दुनिया मे बदलाव लाना हैं।

 वो चाहते हैं कि तकनीकी में विकास भी हो लेकिन इससे प्रकृति को नुकसान भी ना हो। हम बात कर रहे हैं अमेरिकी बिजनेसमैन, इंजीनियर, और इन्वेंटर Elon Musk की! इस लेख ने हम Elon Musk के बारे में बात करेंगे और ‘एलन मस्क की जीवनी’ (Elon Musk Biography in Hindi) के बारे में जानेंगे । 

एलन मस्क कौन हैं? Elon Musk Biography in Hindi

दुनिया मे  7 बिलियन से भी ज्यादा लोग हैं। हर एक कि अपनी एक कहानी हैं लेकिन हमें हर किसी की कहानी में दिलचस्पी नही हो सकती। हम केवल महान और प्रेरणादायक लोगो के बारे में जानने में दिलचस्पी रखते है, मुख्य रूप से अपने क्षेत्र के लोगो के बारे में।

एलन मस्क वैज्ञानिकों, टेक्निशियंस, कोडर्स, इन्वेस्टर्स, बिजनेसमैन और हर किसी के लिए एक प्रेरणा हैं। वह दुनिया के सबसे अमीर लोगो की लिस्ट में शामिल हैं। एलन मस्क ऑटोमोबाइल्स, अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र से प्रॉफिट कमाते हैं।

वर्तमान में एलन मस्क जेफ बेज़ोस के बाद दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति हैं। उनकी सम्पत्ति 140 बिलियन डॉलर्स से भी अधिक हैं। उनकी कमाई का मुख्य स्रोत Tesla और SpaceX हैं।

जब कोरोना वायरस में हुए लॉकडाउन के दौरान दुनिया के बड़े बड़े अमीरों की कम्पनियो में काम रुक गया उस समय एलन मस्क जैसे कुछ लोगो ने जमकर प्रॉफिट कमाया। लेकिन एलन मस्क वह व्यक्ति है जो पैसो के पीछे नही भागते। वह ज्ञान का पीछा करते है और दुनिया मे एक रेवोल्यूशन लाना चाहते हैं।

अब आप यह तो जान चुके हैं कि Elon Musk कौन है और उनकी जीवनी के बारे में जानना रोचक क्यों होगा! तो चलिए अब एलन मस्क की जीवनी Elon Musk Biography in Hindi – Elon Musk Case Study पर नज़र डालते हैं।

एलन मस्क की जीवनी – Elon Musk Biography in Hindi

एलन मस्क का जन्म 28 जून 1971 में साउथ अफ्रीका के प्रोटोरिया में हुआ था। एलन के पिता Errol Musk (एरोल मस्क) एक पायलट थे और साथ मे एक इलेक्ट्रिक इंजीनियर भी थे। एलन की माँ का नाम Maye Musk (माये मस्क) था। एलन के 2 भाई-बहन भी हैं। भाई का नाम किम्बल और बहन का नाम तोस्का हैं। सन 1980 में एलन के माता-पिता का तलाक हो गया था। एलन में अपने पिता के साथ रहना स्वीकार किया। इस तरह से वह अपनी माँ के साथ अपने भाई-बहन से भी अलग हो गए।

एलन ने कई इंटरव्यू में बताया हैं कि वह बचपन से काफी शर्मीले लड़के रहे हैं। वह किसी से अधिक बात नही किया करते थे। एलन को अपने बचपन से ही किताबे पढ़ने का बड़ा शौक था। उन्होंने 12 वर्ष की उम्र में ही कई किताबें पढ़ ली थी। जितनी किताबे उन्होंने 12 वर्ष की उम्र में पढ़ी होंगी उतनी शायद आज के समय मे अच्छा खासा शिक्षित ग्रेजुएट युवक भी नही पढ़ता होगा। खैर, उस समय टीवी या मोबाइल तो थे नही तो बच्चे या तो पढ़ते थे या खेलते थे। एलन की ज्यादा बच्चो से दोस्ती नही थी इसलिए उन्होंने किताबो को ही अपना दोस्त बनाया।

एक इंटरव्यू के मुताबिक एलन मस्क पढ़ाई करते समय कही न कही स्वामी विवेकानन्द जैसे थे। वह जब किसी किताब को पढ़ते थे तब वह किसी की नही सुनते थे। वह भूल जाते थे कि बाहर भी एक दुनिया हैं। उनके पिता उन्हें आवाज देते रहते लेकिन वह आवाज एक कान से होकर दूसरे कान से निकल जाती। फर्क नही पड़ता कि किताब में परियो की कहानियां हैं या फिर इलेक्ट्रिक साइंस के किसी अविष्कार की जानकारी। एलन की इस आदत की वजह से उनके पिता उन्हें एक बार डॉक्टर के पास भी लेकर गए लेकिन डॉक्टर ने कहा कि वह बिल्कुल ठीक हैं।

एलन के पिता एरोल ने उन्हें मात्र 10 वर्ष की उम्र में  ही एक कम्प्यूटर ला थमाया था। जिस समय बच्चो के पास कहने को ज्यादा कुछ नही रहता उस समय एलन के पास अपना खुड़ का एक कम्प्यूटर था। वह जिस तरह किताबो में  खो जाया करते थे उसी तरह कम्प्यूटर में खो गए। लेकिन उन्होंने कम्प्यूटर का प्रयोग अपने ज्ञान को बढ़ाने के लिए किया। अपनी पॉकेट मनी से गेम्स की सीडी लाने की जगह वो कम्प्यूटर की किताबें लाया करते थे और इस तरह से उन्होंने मात्र 12 वर्ष की उम्र में ही प्रोग्रामिंग की मदद से एक कम्प्यूटर गेम तैयार कर लिया था।

उनका यह गेम काफी रोचक था जिस वजह से एक कम्पनी ने उनके इस गेम को खरीदने में रुचि दिखाई। एलन के इस ‘ब्लास्ट’ नामक गेम को एक कम्पनी ने 500 डॉलर की कीमत में खरीद लिया। यह आज के हिसाब से भारतीय रूपयो में 30 हजार रूपयो के आसपास हैं। उस समय इनकी कीमत काफी थी। इससे यह तो अंदाजा हो ही जाता हैं कि एलन काफी कम उम्र में भी काफी ज्ञानी थे। लेकिन स्कूल में एलन एक कमजोड छात्र थे! पढ़ाई से नही बल्कि शरीर से। एलन के साथ उनके सीनियर मारपीट किया करते थे। एक बार उन्हें इतना मारा गया था कि उन्हें हॉस्पिटल में एडमिट करना पड़ा था।

एलन को शुरुआत से ही अमेरिका काफी पसंद था। वह 17 साल की उम्र में अमेरिका जाना चाहते थे लेकिन नही जा सके। बाद में वह कुछ महीनों बाद अपनी माँ के रिश्तेदारो के पास कनाडा रहने चले गए। कनाडा में उन्हें नागरिकता भी मिल गयी। अपनी शुरुआती शिक्षा एलन अपने पिता के साथ रहते हुए प्राप्त कर चुके थे। कनाडा में रहते हुए उन्होंने अपने उच्च शिक्षा प्राप्त की और वहीं पर वह ग्रेजुएट हुए। एलन ने यूनिवर्सिटी ऑफ़ पेनसिलवेनिया से फिजिक्स की डिग्री ली थी। इसके बाद बिजनेस में रुचि के चलते उन्होंने व्हार्टन स्कूल ऑफ़ बिज़नेस से इकोनॉमिक्स की डिग्री भी ली।

इसके बाद आखिरकार उनका सपना साकार हुआ जब वह 1995 में फिजिक्स में पीएचडी करने के लिए अमेरिका गए। शिक्षा में उनकी रुचि को चलते हुए आसानी से उनका एडमिशन स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में हो गया। लेकिन पीएचडी के दौरान उन्हें इंटरनेट के बारे में पता चला और वह इंटरनेट के क्षेत्र में आगे बढ़कर ज्ञान प्राप्त करने लगे। उन्होंने पीएचडी के लिए स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में एडमिशन तो कराया था लेकिन दो दिन बाद ही उन्होंने एडमिशन वापस ले लिया।

सन 1995 में एलन मस्क ने अपने भाई के साथ मिलकर अपनी पहली कम्पनी Zip2 की शुरुआत की। इस कम्पनी का मुख्य काम न्यूज़ पेपर्स कम्पनियो को सिटी गाइड करना था। इंटरनेट से जुड़ी हुई यह कम्पनी तेजी से उठने लगी। साल1997 में एलन ने Zip2 के अपने हिस्से के 7% शेयर्स 22 मिलियन डॉलर्स ने बेच दिए। साल 1999 में एलन के दिमाग मे इंटरनेट से पैसे ट्रांजैक्शन करने का आइडिया आया और उन्होंने X.com की शुरुअत की। बाद में इसका नाम बदलकर PayPal कर दिया गया। जी हाँ, यह वही कम्पनी हैं जिसने ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के क्षेत्र में एक रेवोल्यूशन पैदा किया।

PayPal एलन के सबसे बड़ा अविष्कारों में से एक था और उन्होंने अपने इस कंपनी को ई-कॉमर्स कंपनी eBay को 122 मिलियन डॉलर्स ने बेच दिया। एलन मस्क अपनी ज्ञान की वजह से कंपनियों के शेयर और कंपनियां को बेचकर एक अमीर व्यक्ति बन चुके थे। साल 2002 में एलन मस्क रसिया गए थे। वहां उन्होंने 3 रॉकेट खरीदने की इच्छा जाहिर की। एक रॉकेट की कीमत 8 मिलियन डॉलर थी। उन्होंने सोचा कि वह इससे कम कीमत में रॉकेट तैयार कर सकते हैं। वापस अपने देश आकर उन्होंने रॉकेट साइंस की पढ़ाई की ओर SpaceX की स्थापना की।

अंतरिक्ष विज्ञान और रॉकेट साइंस एलन मस्क के लिए एक नया विषय था। पहले से ही एक धनी व्यक्ति बन चुके थे और लोगों ने उन्हें इस क्षेत्र में जाने के लिए मना किया। उनके व्यवसायी मित्रों और उनके परिवार ने उन्हें क्षेत्र में निवेश करने से मना किया लेकिन उसके बावजूद भी एलन ने रिस्क लेते हुए निवेश किया। शुरुआत में उनके 3 रॉकेट फ्लॉप हुए और उन्हें भारी भरकम नुकसान हुआ।

 लोगों ने उन्हें यह क्षेत्र छोड़ने की सलाह दी लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। उन्होंने लगातार क्षेत्र में ज्ञान  प्राप्त करते हुए रेवोलुशन लाने की कोशिश की और आज उनकी कम्पनी SpaceX दुनिया की सबसे बड़ी प्राइवेट अंतरिक्ष विज्ञान में काम करने वाली कंपनी है। वह Nasa के साथ मिलकर भी कम कर रहा हैं। SpaceX की कीमत आज 45 बिलियन डॉलर हैं।

एलन मस्क को अधिकतर लोग उनकी इलेक्ट्रिक व्हीकल कंपनी टेस्ला के लिए जानते हैं। अगर टेस्ला को दुनिया की सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक कार कंपनी भी कहा जाए तो उसमें कोई बड़ी बात नहीं होगी। टेस्ला ने पिछले कुछ सालों में कई देशों में अपने इलेक्ट्रिक कारों की जमकर सेल्स की है जिससे कि एलन मस्क को काफी तगड़ा मुनाफा भी हुआ है।

 एलन मस्क की इलेक्ट्रिक कार इतनी सटीक और सही है इस समय पर उनकी तुलना करने वाली कोई कार नहीं हैं। उनकी इलेक्ट्रिक कार अफोर्डेबल होते हुए भी कई महंगी डीजल और पेट्रोल कारो से ज्यादा एडवांस होती हैं।

साल 2003 में एलन मस्क Tesla Inc. का नाम की एक इलेक्ट्रिक व्हीकल बनाने वाली कंपनी से जुड़ गए थे। उस कम्पनी का उद्देश्य बिना प्रदूषण बनाने वाली कार बनाना था जो बैटरी से चलती हो। लेकिन उस समय यह कारे बेकार और कम पावर वाली मानी जाती थी । यह लोगो को महंगी पड़ती थी और उन कारो को चलाने में खर्चा भी अधिक आता था।

शुरुआत में एलन को यहाँ भी नुकसान झेलना पड़ा। लेकिन एलन मस्क ने इस क्षेत्र में ध्यान दिया और कम्पनियो की सभी त्रुटियों को दूर करते हुए वह इस क्षेत्र में रेवोल्यूशन लाये। आज के समय में टेस्ला दुनिया की सबसे अधिक इलेक्टिक कार सेल करने वाली कम्पनियो में से एक हैं।

SpaceX और Tesla के अलावा भी Elon Musk का नाम कई रेवोल्यूशनरी कम्पनियो के साथ लिया जाता हैं। इन कम्पनियो में Starlink, The Boring Company, Neuralink Company, Solar City आदि शामिल हैं। यह सभी कम्पनिया ऐसे क्षेत्रों में काम कर रही है जिनमे रेवोल्यूशन की संभावना हो।

Elon musk का उद्देश्य एक ऐसी दुनिया बनाना हैं जिसमें विकास भी हो और प्रकृति को नुकसान भी ना हो। वह बिना प्रकृति को नुकसान पहुंचाए दुनिया को आधुनिक और सस्ता बनाना चाहते हैं।

ये भी पढ़े :-Hyperloop Technology क्या है ?
                 Brain fingerprinting kya है ?

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *