pm swamitva yojana in hindi

पीएम स्वामित्व योजना : PM Swamitva yojana detail information

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कार्यकाल की शुरुआत से ही आंकड़ों के digitalization पर काफी जोर दिया है ताकि सरकार के पास अधिक से अधिक जानकारी रह सके और जनता को भी इसका लाभ मिल सके। डिजिटल इंडिया के तहत जमीन-जायदाद और खेत आदि के आंकड़ों के पोर्टल बनाये गए जिससे लोगो को काफी लाभ मिला। हाल ही में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘swamitva yojana ‘ की घोषणा की हैं।

 इस लेख में हम स्वामित्व योजना क्या हैं, स्वामित्व योजना के लाभ क्या है (PM Swamitva Scheme Benefits, Beneficiary, Eligibility, Online Registration Details in Hindi) जैसे सवालों का जवाब जानेंगे।

भारत एक ऐसा देश है जहां पर जितनी आबादी शहरों में रहती है उतनी ही गांव में भी रहती है। ना केवल बड़े शहरों के आस पास बल्कि पहाड़ों, मैदानों और मरुस्थल में भी कई गांव ऐसे हैं जहां पर हजारों की संख्या में लोग रहते हैं। इन गांवों में काफी सारी ऐसी जमीन होती है जिनके मालिक की जानकारी सरकार के पास नहीं होती और ना ही मालिक के पास स्वामित्व का कोई रिकॉर्ड होता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा शुरू की गई ‘पीएम स्वामित्व योजना’ (PM Swamitva Yojana in Hindi) इसी विषय पर आधारित हैं। आज हम प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना की पूरी जानकारी हिंदी में प्राप्त करेंगे

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना क्या है – What is PM Swamitva Scheme

हम सभी को यह बात भली-भांति पता है कि गांवों में अक्सर जमीनों को लेकर विवाद चलते रहते हैं। काफी सारी ऐसी जमीन रहती है जिनके मालिकों के बारे में कोई सटीक जानकारी नहीं होती और उन जमीनों पर लोग अपना हक जता लेते हैं और कई बार विभिन्न समुदायों में जमीनों को लेकर लड़ाई झगड़ा चलता रहता है।

 सरकार को भी इन जमीनों से कोई कर प्राप्त नहीं होता। इसके अलावा इन जमीनों को गारंटी के तौर पर रखकर ऋण भी नहीं लिया जा सकता। इन्हीं सब समस्याओं का समाधान करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘पीएम स्वामित्व योजना’ की शुरुआत की हैं।

गांव में ऐसे कई जमीने मौजूद है जिन पर लोग अपना मालिकाना हक जताते हैं लेकिन इसका कोई रिकॉर्ड मौजुद नहीं हैं। आजादी के बाद से ही कई राज्यों ने इन जमीनों को लेकर कोई कदम नहीं उठाया। इन जमीनों के कभी Legal कागज भी तैयार नही किये गए। तमिलनाडु और ओड़िसा सरकार ने इस क्षेत्र में कुछ कदम जरूर उठाया था लेकिन अन्य राज्यों में इन जमीनों को लेकर कुछ नहीं किया गया। 

इन जमीनों के मालिकाना हक के लिए भारत सरकार की पहल को ‘पीएम स्वामित्व योजना’ का नाम दिया गया हैं। इस योजना के तहत जमीनों और घरों के मालिकों का सर्वे किया जाएगा और उसके बाद उन्हें ‘सम्पत्ति कार्ड’ दिया जाएगा।

हाल ही में रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वामित्व योजना की घोषणा की जिसका मुख्य उद्देश्य जमीनों और घरों का स्वामित्व तय करना हैं। अगर यह योजना सफल होती है तो शहरों के साथ  गांवों  में भी जमीनों के मालिक निश्चित हो जाएंगे। स्वामित्व योजना में गांव में रहने वाले जमीन और घरों के मालिकों को सर्वे के बाद संपत्ति कार्ड  दिया जाएगा जिससे कि वह सरकार की नजर में उस जमीन के मालिक होंगे। 

इसके बाद वे उस जमीन को बेच भी पाएंगे और उसको गारंटी के रूप में रखकर लोन भी ले पाएंगे। इससे केंद्र सरकार और राज्य सरकार के पास जमीनों का सटीक आंकड़ा भी उपलब्ध हो जाएगा।

स्वामित्व योजना का उद्देश्य – Objective of PM Swamitva Yojana in Hindi

प्रधानमंत्री के द्वारा हाल ही में शुरू की ‘प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना’ एक बहुउद्देशीय योजना हैं। प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का मुख्य उद्देश्य जमीन के मालिको को उनका हक दिलाना हैं। प्रधान मंत्री स्वामित्व योजना से उन जमीनों के सभी विवाद निपट जाएंगे जिन पर लोग मालिकाना हक जताते हैं। यह समस्या गाँव में सबसे अधिक हैं। ऐसे में यह योजना ग्रामीण क्षेत्रो में रहने वाले लोगो के लिए ज्यादा लाभदायक साबित होगी।

24 अप्रेल जिस दिन पंचायती राज दिवस मनाया जाता हैं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने video  conferencing के माध्यम से किसानो को सम्बोधित करते हुए योजना का सहयोग करने और लाभ उठाने का अहवान किया

अगर सरल भाषा में प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का मुख्य उद्देश्य समझा जाए तो इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रो में जमीनों पर उनके मालिको का अधिकारीक  तौर पर हक हो जाएगा। इसके साथ ही सरकार के पास  भी जमीनों और उनके मालिक के पक्के आंकड़े उपलब्ध हो जाएंगे।

 साल 2018 के एक आंकड़े की माने गाँव के अधिकतर घरों और जमीनों से सरकार को फायदा प्राप्त नही होता। अगर सरकार के पास इन जमीनों और मालिको के आंकड़े मौजूद होंगे तो कर चोरी कम की जा सकेगी।

स्वामित्व योजना के फायदे – PM Swamitva Scheme Benefits in Hindi

किसी भी योजना को चलाने के पीछे सरकार के कई उद्देश्य होते हैं और उस योजना से कई लोगो को फायदे मिलते हैं। PM Swamitva Yojana भी एक बहुउद्देशीय योजना हैं जिसके कई फायदे सामने निकलकर आएंगे। इस योजना से संपत्ति के मालिक को और सरकार दोनों को फायदा होगा। इनमे से कुछ मुख्य और सबसे असरदायक फायदे होंगे :

  • प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के माध्यम से मालिको को उनकी सम्पत्ति का सम्पत्ति कार्ड दिया जाएगा। जिसके माध्यम से वह बैंक से लोन ले सकेंगे या उस सम्पत्ति को बिना किसी दिक्क्त के बेच सकेंगे।
  • जमीन को खरीदना और बेचना आसान हो जाएगा।
  • सरकार को राजस्व का फायदा होगा।
  • साल 2018 के अकड़े के मुताबिक ग्राम पंचायतों से केवल 19% टैक्स ही वसूल जाता था। इससे सरकार को मिलने वाले टैक्स में भी फायदा होगा।
  • देश भर के कुल 763 जिलो में इस योजना पर काम चल रहा है यानी कि बड़ी मात्रा में जमीनों को लेकर होने वाले विवाद टल जाएंगे।
  • जमीनों की सत्यापन प्रक्रिया काफी तेज हो जाएगी और इन से जुड़े हुए भ्रष्टाचार को रोकने में मदद मिलेगी।
  • इस योजना के संपत्ति नामांकन की प्रक्रिया सरल और आसान बना दी जाएगी।

यह थे स्वामित्व योजना के कुछ महत्वपूर्ण लाभ, इसके अलावा भी इस योजना से सरकार और संपत्ति के मालिक को कई छोटे बड़े लाभ होंगे।

स्वामित्व योजना प्रॉपर्टी कार्ड क्या हैं? Swamitva Yojana Property Card Information in Hindi

स्वामित्व योजना प्रॉपर्टी कार्ड (Swamitva Yojana Property Card) प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का एक अहम और मुख्य भाग हैं। एक तरह से कहा जाए  तो योजना इसी पर टिकी हुई हैं। जिन जमीनों के कोई रिकार्ड्स नहीं हैं ड्रोन और विभिन्न माध्यमो से उनका सर्वे किया जाएगा और उनके मालिको को एक सम्पत्ति कार्ड दिया जाएगा, इसी कार्ड को  प्रॉपर्टी कार्ड कहा जाता हैं।

 11 अक्टूबर 2020 को 763 गांवों के 1.32 लोगों को आबादी की जमीन का मालिकाना हक के कागज के साथ प्रॉपर्टी कार्ड दिए जाएंगे। यह प्रॉपर्टी कार्ड एक तरह से जमीन के मालिकाना हक का सबूत होगा जिसका इस्तेमाल करते हुए बैंक से ऋण लिया जा सकेगा, जमीन को आसानी से बेचा जा सकेगा और उसका लिगली उपयोग किया जा सकेगा।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें-PM Swamitva Yojana Online Application in Hindi

अगर आप प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आप इस योजना के लिए आसानी से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हो। प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का लाभ उठाने के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया कुछ इस तरह हैं:

  • सबसे पहले स्वामित्व योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाए। वेबसाइट की URL आप गूगल पर सर्च कर सकते हो, या फिर आप नीचे दी गयी URL से सीधे पोर्टल पर जा सकते हो:

https://egramswaraj.gov.in/  

  • वेबसाइट पर जाते ही आपको वेबसाइट का होमपेज ओपन मिलेगा। ऊपर की तरफ ‘New Registration’ लिखा होगा। उस पर क्लिक करे।
  • इसके बाद आपको एक Form दिखेगा। इस Form में आपस्व जो भी जानकारी मांगी जाएगी उसे सटीक रूप से भरना हैं। जब आप पूरा फॉर्म भर दो तब ‘Submit’ का बटन दबाकर उसे सबमिट कर दो।
  • अगर आपने फॉर्म सटीक रूप से सफलतापूर्वक भरा है तो आपको s.m.s. या फिर ईमेल के जरिए रजिस्ट्रेशन के सफल होने की जानकारी मिल जाएगी।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना संपत्ति कार्ड कैसे डाउनलोड करें-How to Download Property Card in Hindi

प्रॉपर्टी कार्ड स्वामित्व योजना का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार इस प्रॉपर्टी कार्ड से जमीन का मालिक आसानी से अपना मालिकाना हक जता सकता है। स्वामित्व योजना प्रॉपर्टी कार्ड डाउनलोड करने के लिए निम्न स्टेप्स फॉलो करने होंगे:

  • इस योजना के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन सफल होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बटन दबाते ही देश भर में प्रॉपर्टी के मालिकों को एसएमएस के माध्यम से एक लिंक मिलेगा। अगर आपके पास ऐसा लिंक आया है तो उसे ओपन करें।
  • इस लिंक को ओपन करने के बाद आपके सामने एक नया लिंक आएगा उस पर क्लिक करे। फिर एक पेज ओपन होगा जिसमें आपको एक डाउनलोड का बटन भी दिखेगा।
  • डाउनलोड के बटन पर क्लिक करने के बाद आपका प्रॉपर्टी कार्ड डाउनलोड हो जाएगा। इसे सेव करके रखे या प्रिंट करवा ले।

बता दे धीरे-धीरे सभी राज्य सरकार अपने राज्य के सभी संपत्ति धारकों को यह Property Card देने वाली है। अतः इस मामले में चिंता करने की कोई दिक्कत नहीं हैं।

Read this also:-1.स्टार्टअप ग्राम उद्यमिता कार्यक्रम

उम्मीद है कि प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना पर आधारित हमारा यह लेख आपको पसंद आया हुआ। इस लेख में हमने प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना क्या हैं, (PM Swamitva Yojana in Hindi) प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना प्रॉपर्टी कार्ड (PM Swamitva Yojana Property Card) जैसे विषयो की जानकारी ली। अगर आपके दिमाग में अब भी प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना से जुड़ा हुआ कोई डाउट है तो कमेंट करके हमें जरूर बताएं और इस आर्टिकल को सोशल मीडिया जैसे whatsaap, facebook, google+, twitter इत्यादि पर शेयर करे

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on google
Google+
Share on telegram
Telegram
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on pinterest
Pinterest
Share on reddit
Reddit

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *