digital voter id card

Digital Voter ID Card क्या हैं और कैसे बनवाये ?

कुछ सालो पहले माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘डिजिटल इंडिया अभियान’ कि शुरुआत की थी। इस अभियान का मकसद देश को डिजिटल बनाना था। आज के समय मे पेमेंट करने से लेकर ड्राइविंग लाइसेंस और आधार कार्ड आदि सब कुछ डिजिटल तरीके से किया जा सकता हैं। वर्तमान में हमारे पास इतनी डिजिटल सुविधाएं मौजुद हैं कि किसी डॉक्यूमेंट की हार्ड कॉपी लेकर घूमने की जरूरत नही पड़ती।

 लेकिन वोटर आईडी कार्ड (Voter ID Card) अब भी हार्ड कॉपी में ही मिलता हैं। लेकिन जल्द ही यह भी डिजिटल हो जाएगा और हम इंटरनेट से Digital Voter ID Card प्राप्त कर सकेंगे। इस लेख में हम ‘डिजिटल वोटर आईडी कार्ड क्या है’ (What is Digital Voter ID Card in Hindi) के बारे में बात करेंगे।

डिजिटल वोटर आईडी कार्ड क्या हैं? What is Digital Voter ID Card in Hindi

डिजिटल वोटर आईडी कार्ड वोट देने के लिए बनाए जाने वाला पहचान पत्र यानी कि Voter ID Card का डिजिटल रूप होगा जो की मोबाइल या कंप्यूटर में रहेगा। इसका उपयोग हम वोट देते हुए कर सकेंगे। फिलहाल वर्तमान में ऐसी कोई सुविधा नही है लेकिन इस प्रकार की सुविधा यानी कि डिजिटल वोटर आईडी कार्ड लाने के लिए तैयारियां शुरू कर दी गयी हैं। सरकार जल्द ही हम सभी को अपना Digital Voter ID Card Online Registration और Digital Voter ID Card Online Download की सुविधा देगी।

अगर आप वोटर ID कार्ड के बारे में अधिक नही जानते तो बता दे कि हर देश के पास अपना अपना वोटर आईडी कार्ड होता हैं। यह वोटर आईडी कार्ड एक प्रकार का पहचान पत्र होता है जो वोट देने के लिए जरूरी होता हैं।भारत मे वोटर आईडी कार्ड Election Commission of India यानी कि चुनाव आयोग के द्वारा जारी किया जाता हैं। अगर कोई भी व्यक्ति चुनावो में वोट देना चाहता हैं तो उसके पास Voter ID Card होना अनिवार्य हैं। भारत का कोई भी स्थाई नागरिक या फिर जिस व्यक्ति के पास भारत की नागरिकता प्राप्त है वह 18 वर्ष के बाद Voter ID Card बनवाकर वोट दे सकता हैं।

Voter ID Card का उपयोग न केवल वोट देने के लिए लिया जाता है बल्कि आधार कार्ड की तरह यह भी एक मुख्य Identity Document माना जाता हैं। Voter ID Card का उपयोग Sim Card खरीदने, Passport के लिए अप्लाई करने और ट्रेवल डॉक्यूमेंट के रूप में भी किया जा सकता हैं। इसके अलावा अन्य कोई भी सरकारी काम जैसे कि सरकारी योजना के लिए अप्लाई करना आदि में Voter ID Card का प्रयोग किया जा सकता हैं। Digital Voter Identity Card वोटर आईडी कार्ड का ही डिजिटल रूप रहेगा। इससे वह सभी काम किये जा सकेंगे जो Voter ID Card से किये जा सकते हैं।

Digital voter id card कब तक मिलेगा?

डिजिटल वोटर आईडी कार्ड पर फिलहाल केवल काम चल रहा हैं। कई अन्य विकसित और विकाशशील देशो में डिजिटल वोटर आईडी कार्ड का वर्तमान में उपयोग किया जा रहा हैं। डिजिटल वोटर आईडी कार्ड  के माध्यम से कोरोना काल मे कई देशों में चुनावो में वोट भी दिए गए हैं। भारत मे भी डिजिटल वोटर आईडी कार्ड पर काम शुरू कर दिया गया हैं। लेकिन एक बड़ा देश होने के कारण फिलहाल यह आसन काम नहीं हैं।

चुनाव आयोग ने वोट देने वाले लोगो यानी कि मतदाताओं को अधिक सुविधाएं देने के लिये डिजिटल वोटर आईडी कार्ड का आईडिया दिया हैं। इससे लोग अपने वोटर आईडी कार्ड को आसानी से एक्सेस कर सकेंगे। एक सीनियर अफसर के द्वारा इस बात की जनकारी दी गयी हैं। एक बड़े अफसर के द्वारा दी गयी जानकारी की माने तो अब तक इस सुझाव को लेकर चुनाव आयोग की तरफ से कोई फैसला नही लिया गया हैं।

प्राप्त हुई जानकारी की माने तो चुनाव आयोग मुख्य निर्वाचन अधिकारियों और जनता के कार्य समूहों के माध्यम से अधिकारियों से क्षेत्रों में विचार और सुझाव प्राप्त करता रहता है। यह भी एक सुझाव है जो वाकई में बेहतरीन साबित हो सकता हैं। चुनाव आयोग का मानना हैं की अगर डिजिटल वोटर आईडी कार्ड की सुविधा मतदाताओं को दी जाती है तो इससे वह अपने Voter ID Card को आसानी से एक्सेस कर सकेंगे और उन्हें वोटर आईडी कार्ड की हार्ड कॉपी अपने पास लेकर नही घूमने होगी।

डिजिटल वोटर आईडी कार्ड के क्या लाभ होंगे?

चुनाव आयोग के द्वारा दी गई जानकारियों की माने तो डिजिटल वोटर आईडी कार्ड को मतदाता अपने मोबाइल कंप्यूटर या फिर ईमेल के माध्यम से एक्सेस कर सकेंगे। इससे उन्हें वोटर आईडी कार्ड की हार्ड कॉपी रखने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

जिस तरह से किसी भी समय पर हम आधार कार्ड की ऑफिशियल वेबसाइट आधार कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं उसी तरह से वोटर आईडी कार्ड को भी ऑनलाइन प्राप्त किया जा सकेगा। अगर कभी ऐसी परिस्थिति बनती है जब वोटर आईडी कार्ड की हार्ड कॉपी मतदाता से खो जाती है तब भी डिजिटल वोटर आईडी कार्ड वह ऑनलाइन प्राप्त कर सकेगा।

डिजिटल वोटर आईडी कार्ड का उद्देश्य क्या हैं?

डिजिटल वोटर आईडी कार्ड लाने पर चुनाव आयोग राजनीतिक दलों और जनता के गुटो के साथ अपने अधिकारियों से बात कर रहा हैं। फिलहाल जनता के पास केवल वोटर आईडी कार्ड के लिए केवल हार्ड कॉपी की सुविधा मौजूद हैं। चुनाव आयोग की माने तो डिजिटल वोटर आईडी कार्ड की सुविधा के आने से जनता अपना वोटर आईडी कार्ड और भी आसान से एक्सेस कर सकेगी।

जब कभी आइडेंटिटी की जरूरत पड़ेगी Digital Voter ID Card डाउनलोड किया जा सकेगा। डिजिटल वोटर आईडी कार्ड लाने का एक मुख्य उद्देश्य यह भी हैं कि वोटर आईडी कार्ड बनवाने के बाद उसे प्रिंट करने और आने की प्रक्रिया में समय लगता है। जबकि डिजिटल वोटर आईडी कार्ड को तुरन्त की डाउनलोड किया जा सकेगा।

डिजिटल वोटर आईडी कार्ड ऑनलाइन कैसे डाउनलोड करे – Digital Voter ID Card Online Download

वर्तमान में डिजिटल वोटर आईडी कार्ड की सुविधा मौजूद हैं। सामान्य लोगों के लिए चलाने की तैयारियां की जा रही है। डिजिटल वोटर आईडी कार्ड की सुविधा मौजूद होगी तब इसके लिए एक ऑनलाइन पोर्टल बनाया जाएगा जिसे सरकार की तरफ से चलाया जाएग। जिस तरह से आधार कार्ड के लिए UIDAI Online Portal चलाया जा रहा है उसी तरह से वोटर आईडी कार्ड के लिए भी Digital Voter ID Card Online Portal बनाया जाएगा। इस पोर्टल के माध्यम से कुछ सामान्य जानकारी भरके जैसे कि मतदाता का नाम, Voter ID Card नम्बर, Voter ID Card की रिसिप्ट आदि के माध्यम से ऑनलाइन डिजिटल वोटर आईडी कार्ड डाउनलोड किया जा सकेगा।

आज के इस लेख में हमने डिजिटल वोटर आईडी कार्ड के बारे में बात की। इस लेख में हमने डिजिटल वोटर आईडी कार्ड क्या हैं, डिजिटल वोटर आईडी कार्ड के क्या लाभ हैं, डिजिटल वोटर आईडी कार्ड का क्या उद्देश्य है जैसे विषयों पर बात की। अगर आपको अब भी डिजिटल वोटर आईडी कार्ड से जुड़ा हुआ कोई सवाल हैं तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं।

ये भी पढ़े :-Hyperloop Technology क्या है ?
                  critical thinking skills क्या होती है ?

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *